बैंक क्या होती हैं। जानिये बैंकिंग सिस्टम के बारे में

आज भारत में लगभग हर वयस्क व्यक्ति के पास अपना बैंक खाता है। प्रधानमंत्री जनधन योजना के बाद बैंक खाता धारकों की संख्या बढ गई है। बैंक आज के दौर में वित्तीय जरूरतों को पूरा करनें के लिये एक ​अति महत्वपूर्ण संस्था है।

बैंक क्या होती है (what is Bank)

बैंक एक फाइनेंसियल इंस्टीटूयट होती है जिसका काम लोगों से धनराशि जमा स्वीकार करना, जमाराशि का भुगतान करना, लोन देना आदि है। बैंक धनराशि के अलावा लोगों की बहुमूल्य वस्तुऐं भी जमा करती है। इसके अतिरिक्त ग्राहकों के लिए उनके चेकों का संग्रहण करनाए व्यापारिक बिलों की कटौती करनाए एजेंसी का काम करनाए गुप्त रीति से ग्राहकों की आर्थिक स्थिति की जानकारी लेना देना। अतरू बैंक केवल मुद्रा का लेन देन ही नहीं करते बल्कि अन्य फाइनेंन्स से जुडे काम भी करते हैं।

भारतवर्ष में बैकिंग सेवाओं की शुरूआत दौ सौ साल पहले ही हो चुकी थी। 19वीं शताब्दी में ब्रिट्रिश काल में ईस्ट इण्डिया कम्पनी ने तीन बैंकों की शुरूआत की थी बैंक आफ बंगाल, 1801 में बैंक आफ बॉम्बे 1840 में और बैंक आफ मद्रास 1843 में। कुछ समय बाद इन तीनों बैंको का आपस में विलय करके एक नया बैंक बनाया गया जिसे इंपीरियल बैंक नाम दिया गया। बाद में इंपीरियल बैंक को आजादी के बाद 1955 में भारतीय स्टेट बैंक में विलय कर दिया गया। भारत में प्राइवेट सेक्टर का पहला बैंक इलाहाबाद बैंक था। भारतीय रिजर्ब बैंक की स्थापना 1935 में की गई थी।

आजादी के बाद भारतीय रिजर्ब बैंक का केंन्द्रीय बैंक का दर्जा बरकरार रखा गया और उसे सेंण्ट्रल बैंक का बैंक घोषित किया गया। भारतीय रिजर्ब बैंक को बैंको से सम्बन्धित नियम बनाने का, उनकी निगारानी करनें का काम सौंपा गया।

भारत में बैंको का राष्ट्रीयकरण

आजादी के बाद भारत में 1949 में भारतीय रिजर्ब बैंक का राष्ट्रीयकरण किया गया। उसके बाद 1955 में इंपीरियल बैंक आफ इण्डिया का नाम बदल स्टेट बैंक आफ इण्डिया कर दिया गया। 1959 में भारतीय स्टेट बैंक अधिनियम बनाकर आठ क्षेत्रीय बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया गया। जिन्हे स्टेट बैंक आफ इण्डिया की सहयोगी बैंक माना गया। जिनके नाम – स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद, स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एण्ड जयपुर, स्टेट बैंक ऑफ इन्दौर, स्टेट बैंक ऑफ मैसूर, स्टेट बैंक ऑफ ट्रावणकोर इत्यादि हैं। देशभर में इनकी लगभग 15,000 शाखायें हैं। 1 अप्रैल 2017 से इनमें से पॉच बैंको को एसबीआई में विलय कर दिया गया अब ये बैंक स्टेट बैंक के रूप में काम करती हैं।

19 जुलाई 1969 को देश के प्रमुख 14 बैंको का रा​ष्ट्रीयकरण किया गया। ये सभी बैंक वाणिज्यिक बैंक थे। वहीं 15 अप्रेल 1980 को निजी क्षेत्र के भी 6 और बैंको का राष्ट्रीयकरण किया गया। वर्तमान में भारत में कुल 19 राष्ट्रीयकृत बैंक हैं जिनकी शाखाऐं देश भर में फैली हैं।

बैंको द्वारा किये जाने वाले कार्य (Work Of Banks)

1. ग्राहक का खाता खोलना
2. उसके खाते पर लेन.देन करना
3. उसकी जमाराशि को सुरक्षित रखना
4. उसकी वित्तीय जरूरतें जैसे चेक जारी करनाए फण्ड ट्रांसफरए बिल भुगतानए सैलरी भुगतान करना
5. जरूरतमंदो को लोन देना
6. थर्ड पार्टी के साथ मिलकर ग्राहकों इंश्योरेन्स जैसी आदि सुविधाऐं उपलब्ध कराना
7. ग्राहक को उसके कीमती सामान को रखने के लिये लाॅकर उपलब्ध कराना

बैंको के प्रकार (Type Of Banks)

केंन्द्रीय बैंक ( Central Bank)
सार्वजनिक बैंक (Public Sector Bank)
निजी बैंक (Private Sector Bank)
सहकारी बैंक (Cooperative Bank)
विकास बैंक (Development Bank)
वाणिज्यिक बैंक (Commerce Bank)

बैंक कार्य कैसे करते हैं।

बैंक अपने ग्राहकों के पैसे की देख रेख का काम करते हैं। ग्राहकों के पैसों को सुरक्षित रखने की जिम्मेदारी भी बैंको की की होती है। बैंक अपने ग्राहकों की वित्तीय जरूरतों को पूरा करते हैं जैसे उनको लोन देना, क्रेडिट कार्ड जारी करना। उनके पैसे किसी अन्य खातें में सु​रक्षित ट्रान्सफर करना आदि। इन सबके बदले बैंक आपसे मामूली चार्ज लेते हैं। वहीं आपकी जमा धनराशि पर बैंक आपको ब्याज भी देते हैं।

ग्राहकों द्वारा जमा किये गये पैसे से बैंक दूसरे जरूरतमंद ग्राहकों को लोन देती हैं और उनसे ब्याज लेती है। वहीं कुछ बैंक ग्राहकों के द्वारा जमा किये गये पैसो का शेयर मार्केट, म्युचुअल फण्ड, चल अचल सम्पति मे निवेश आदि करती है जिससे बैंको को फायदा हो। यही बैंका का आय का साधन हैं।

सम्पूर्ण बैंकिंग व्यवस्था को एक केन्द्रीय बैंक माॅनीटर करता है। जिसका नियन्त्रण सरकार के हाथों में होता है। भारत में रिजर्ब बैंक केन्द्रीय बैंक है। ये केन्द्रीय बैंक ही मुद्रा छापने का काम करता हैए और बैंको के लिये नियम निर्धारित करता है।

भारत में संचालित प्रमुख बैंक

Public Sector Bank List
इलाहाबाद बैंक (Allahabad Bank)
आंध्रा बैंक (Andhra Bank)
बैंक ऑफ बडौदा (Bank Of Baroda)
बैंक ऑफ इंडिया (Bank Of India)
बैंक ऑफ महाराष्ट्र (Bank Of Maharashtra)
भारतीय महिला बैंक (Indian Women Bank)
केनरा बैंक (Canara Bank)
सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (State Bank Of India)
कॉर्पोरेशन बैंक (Corporation Bank)
देना बैंक (Dena Bank)
आइडीबीआई बैंक (IDBDI Bank)
इंडियन बैंक (Indian Bank)
ओरिएण्टल बैंक ऑफ कॉमर्स (Oriental Bank of Commerce)
पंजाब नेशनल बैंक (Punjab National Bank)
पंजाब एंड सिंध बैंक (Punjab and Sindh Bank)
स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank Of India)
सिंडिकेट बैंक (Syndicate Bank)
यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (Union Bank Of india)
विजया बैंक (Vijya Bank)

Private Sector Bank List
एक्सिस बैंक लिमिटेड (Axis Bank)
धनलक्ष्मी बैंक लिमिटेड (Dhanlaxmi Bank)
फेडरल बैंक लिमिटेड (Federal Bank Limited)
एचडीएफसी बैंक लिमिटेड (HDFC Bank Limited)
आईसीआईसीआई बैंक लिमिटेड (ICICI Bank Limited)
इंडसइंड बैंक लिमिटेड (Indusland Bank)
कर्नाटक बैंक लिमिटेड (Karntak Bank Limited)
कोटक महिंद्रा बैंक लिमिटेड (Kotek Mahindra Bank Limited)
यस बैंक लिमिटेड (Yes Bank Limited)

उम्मीद है बैंकिंग सिस्टम से जुडा हमारा ये पोस्ट आपको जरूर पसन्द आया होगा। अगर आपके मन में बैंकिंग सिस्टम से जुडा कोई और सवाल है तो आप हमें कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। आपको हमारे पोस्ट कैसे लगते हैं ये भी आप कमेंट करके हमे बता सकते हैं।

अगर आपको हमारे आर्टिकल अच्छे लगते हैं तो हमारे फेसबुक पेज को लाइक करके हमसे जुडें। आप हमें टिवटर पर भी जुड सकते हैं। आप हमारे   जुड सकते हो जहॉ आपको रोजना नये अपेडट्स मिलते रहेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here